♬ तॠठसे नाराज़ नहीं ज़िनॠदगी